1969-70 के दौरान तत्‍कालीन रासायनिक उत्‍पादों वाली निर्माणीयों में उच्‍च क्षमता के गोला-बारूद हेतु नोंदकों की आवश्‍यकता का अवलोकन करने के उपरांत नोदकों का उत्‍पादन करने वाली निर्माणी की आवश्‍यकता महसूस की गई और इस प्रकार आयुध निर्माणी, इटारसी की स्‍थापना हुई। रक्षा अनुसंधान और विकास संगठन के "इंटिग्रेटेड गाइडेड मिसाइल प्रोग्राम" के तहत आयुध निर्माणी इटारसी में निम्‍नलिखित प्रविधियों हेतु सम्‍मिश्र नोदकों और ढलवॉ दोहरे नोदकों के निर्माणी की सुविधाएं स्‍थापित की गई ।

After reviewing requirements of Propellant for high caliber ammunitions via-a-visa then capacities available in 1969-70 in Chemical Ordnance Factories, a new propellant factory was considered necessary and O.F.Itarsi was set up. O.F.Itarsi manufacture Double ,Triple and Ball Powder Propellant Under Integrated Guided Missile Development Program (UIGMDP) of DRDO.